Ad Code

Responsive Advertisement

Ticker

6/recent/ticker-posts

डोमेन का मतलब क्या होता है जाने हिंदी में||Domain Meaning in Hindi 2022

डोमेन का मतलब क्या होता है जाने हिंदी में-Domain Meaning in Hindi 2022

Domain Meaning in Hindi 2022


Domain meaning: डोमेन नाम इंटरनेट सर्वर पर होस्ट उन तमाम वेबसाइटों का शॉर्ट नेम अथवा निकनेम है जो उन्हें याद रखने और इंटरनेट पर खोजने में काम आता है

डोमेन (Domain) यानी DNS दरअसल यह किसी भी वेबसाइट या वेब पेज तक पहुंचने का सरल माध्यम है जो किसी वेबसाइट या कम्प्यूटर के आईपी पते को दर्शाता है मतलब यह उस वेबसाइट या वेब पेज का वह नाम है जो उसे इंटरनेट पर उसे ढूंढने में मदद करता है| आइए इसे हम और गहराई से समझेंगे

डोमेन दरअसल उन तमाम वेबसाइटों का एक short name या nickname जैसा ही है जो internet Server पर host हैं और इन्हें याद रखना भी आसान बनाता है। और जब हम कंप्यूटर या मोबाइल फोन की मदद से किसी वेबसाइट पर जाते हैं तो कंप्यूटर या मोबाइल फोन IP address का उपयोग करते हैं जो संख्याओं में होता है अब क्योंकि कंप्यूटर और सॉफ्टवेयर को नंबर्स ज्यादा अच्छे लगते हैं और वह उन्हें जल्दी पहचान भी पाता है इसलिए इन्हें नंबर्स में देखा जाता है जबकि हम इंसानों में ऐसा बिल्कुल नहीं है क्योंकि यह IP address नंबराइस और लंबे होते हैं जिससे इन्हें याद रख पाना मुश्किल हो जाता है

और इसी समस्या को देखते हुए 1983 में डोमेन नेम यानी DNS (domain naming system) का अविष्कार किया गया जो इस मुश्किल काम को आसान बनाने में मदद करता है मतलब IP address के मुकाबले डोमेन नेम को याद रखना ज्यादा आसान है जैसे मान लीजिए यह मेरी वेबसाइट www.rishiuikey.in का आईपी एड्रेस है 2001:db8:1f70::999:de8:7648:6e8 अब इन दोनों में से आपको ज्यादा अच्छे से क्या याद रह सकता है मैं समझता हूं rishiuikey को याद रखना ज्यादा आसान होगा

मतलब डोमेन नाम आपकी वेबसाइट का वह नाम है जो किसी भी इंटरनेट यूजर को आसानी से आपकी वेबसाइट तक पहुंचने में और उसे याद रखने में हेल्प करता है और इस नाम की मदद से कोई भी इंटरनेट यूजर आपकी वेबसाइट को दुनिया के किसी भी कोने से ढूंढ सकता है। तो दोस्तों अब आपने डोमेन नाम क्या है? अथवा डोमेन मीनिंग क्या होता है? इसके बारे में अच्छे से समझ लिया होगा अब आगे‌ हम जानेंगे कि डोमेन नाम कितने प्रकार की होते हैैं इसके बारे में

डोमेन नाम कितने प्रकार के हैं?- Types of Domain Name in Hindi 2022

किसी भी ब्लॉगर के लिए Domain name meaning को जानने के बाद यह भी बहुत जरूरी हो जाता है कि उसे डोमेन नाम कितने प्रकार के होते हैं इसकी भी जानकारी होनी चाहिए इस लिए अब मैं आपको डोमेन नाम कितने प्रकार के होते हैं इसके बारे में भी बतादूं

तो देखिए अब क्योंकि डोमेन नाम यह इंटरनेट सर्वर पर होस्ट उन तमाम वेबसाइटों का रखा गया नाम है तो यह तो एक जैसा हो नहीं सकता क्योंकि इंटरनेट सर्वर पर मौजूद इन तमाम वेबसाइटों को कंप्यूटर या अन्य इलेक्ट्रिक डिवाइसों की सहायता से ढुंढना होता है और यह उपकरण उन वेबसाइटों को ढुंढने में IP Address का इस्तेमाल करते हैं इस लिए इंटरनेट पर एक ही आईपी पते के दो वेबसाइटें नहीं हो सकती इसलिए इन्हें अलग अलग टाइप में विभाजित किया गया है

अब मैंने इस विषय को और सरल वा आसान बनाने के लिए कुछ इस तरह का उदाहरण लिया है

जिस प्रकार हमारे इस वर्ल्ड में अलग अलग कंट्रीज हैं और इन अलग अलग देशों में रहने वाले लोगों के नाम भी अलग अलग हैं ठीक उसी प्रकार डोमेन नाम भी अलग अलग नाम के होते हैं और ये डोमेन नाम पर लगे लेवल के अनुसार यह दिखाते हैं कि कौन से डोमेन नाम का क्या महत्व है

तो आइए अब हम यह देखते हैं Domain Name Label क्या है और इनकी क्या विशेषताएं हैं इसके बारे में ताकि आपको Type of Domain Name और Meaning of Domain Name in Hindi यह बेहतर ढंग से समझ में आए

Domain Name Label Meaning in hindi: डोमेन नाम लेवल मतलब क्या है?

Domain Meaning in Hindi 2022


Domain Name Label असल में Domain Name के वैल्यू को दर्शाता है कि कौन सा डोमेन नाम किस स्थिति के लिए बेहतर है चलिए इसे भी कुछ ऐसे समझते हैं मान लीजिए मैं एक हिन्दी Blogger हूं और मेरा पूरा ब्लॉग हिंदी भाषा में है अब मुझे इस ब्लॉग के लिए एक डोमेन नेम चाहिए अब क्योंकि मेरा ब्लॉग हिंदी में है तो मैं सिर्फ India को ध्यान में रखते हुए डोमेन नेम लूंगा

ठीक इसी प्रकार यदि मैं एक इंग्लिश ब्लॉगर हूं और मेरा ब्लॉग इंग्लिश भाषा में बना है तो मैं इस केस में पूरे वर्ल्ड को ध्यान में रखते हुए डोमेन नेम लेना पसंद करूंगा। तो कुल मिलाकर मैं यह समझाने की कोशिश कर रहा हूं कि इस Domain Name Label का मतलब डोमेन नाम के आगे लगे extension से है जो अलग अलग स्थिति के लिए अलग-अलग एक्सटेंशन का इस्तेमाल होता है और इन्हीं एक्सटेंशन को लेवल में आंका जाता है तो आइए अब Domain Name Label Meaning को जानने के बाद डोमेन नेम लेवल के बारे में और डीपली समझते हैं

Type of Domain Name Label- लेवल के प्रकार: टॉप लेवल डोमेन्स (Top Label Domains)

टॉप लेवल Domain Name यह ऐसे डोमेन होते हैं जो पूरे वर्ल्ड को इंकित करते हैं और ऐसे Domain Name को तब चुना जाता है जब कोई वेबसाइट क्रिएटर पूरे वर्ल्ड को टारगेट करते हुए अपनी वेबसाइट को क्रिएट करता है। वहीं इस तरह के टॉप लेवल डोमेन की वैल्यू भी अधिक होती है और इन top label domain को सर्च इंजंस जैसे गूगल, बिंग, याहू आदि ज्यादा प्रायरिटी देते हैं और इस तरह के टॉप लेवल डोमेन सर्च में भी जल्दी इंडेक्स होते हैं जैसे .Com यह एक टॉप लेवल डोमेन नेम है

तो लेवल डोमेन नेम के बारे में इतना सब कुछ जाने के बाद अब हम वे कौन-कौन से टॉप लेवल Domain Name हैं आइए नीचे देखते हैं

  • .Com (Commercial sites)
  • .Org (Organization sites)
  • . Edu (Education sites)
  • Gov (Government sites)

कंट्री कोड Top Label Domains (CcTLD)

इस प्रकार के डोमेन नेम भी टॉप लेवल डोमेन नेम की कैटेगरी में ही आते हैं बस इनमें फर्क सिर्फ इतना होता है कि इन्हें किसी एक स्पेसिफिक कंट्री को ध्यान में रखकर चुना जाता है उदाहरण के लिए rishiuikey.in यह एक कंट्री कोड टॉप लेवल डोमेन नेम है और इसे देखकर कोई भी बता सकता है कि यह डोमेन नेम इंडिया को टारगेट करते हुए चुना गया है और यह एक कंट्री कोड टॉप लेवल डोमेने है जैसे .in यह एक कंट्री लेवल डोमेन है अगर हम बात करें कंट्री लेवल टॉप डोमेन की तो कुछ इस प्रकार है जो आप नीचे देख रहे हैं:-

  • .in (India)
  • .us (United State)
  • .br (Brazil)

सेकंड लेवल डोमेन्स (second level domains)

सेकंड लेवल डोमेन्स यह वो डोमेन नेम है जिसे आप अपनी वेबसाइट के लिए नाम चुनते हैं जैसे rishiuikey.in में rishiuikey सेकंड लेवल डोमेन नेम है और वहीं .in कंट्री कोड टॉप लेवल डोमेन है

थर्ड लेवल डोमेन्स (Third level Domains) या Subdomains

Third level domains जिसे बोलचाल की भाषा में subdomains कहा जाता है यह डोमेन्स आपके मेन वेबसाइट का एक अलग पार्ट होता है जिसमें आप अपनी वेबसाइट को इस्तेमाल करते हुए अलग-अलग कई सारे सब डोमेन बना सकते हैं जैसे मान लीजिए rishiuikey.in यह मेरा एक वेबसाइट है पर मैं चाहता हूं कि मैं इसी डोमेन को यूज करते हुए कई सारे वेबसाइट बना लूं तो मुझे इसके लिए सब डोमेन क्रिएट करना होगा तो अब आपने सब डोमेन के बारे में समझ लिया होगा आइए आप थर्ड लेवल डोमेन्स को समझते हैं

थर्ड लेवल डोमेन्स यानी यह वो नाम है जो आपके सेकंड लेवल डोमेन नेम से पहले लिखा जाता है जैसे rishiuikey.in यह मेरी वेबसाइट है जो हिंदी भाषा में है अब यदि मुझे इसी वेबसाइट को यूज करते हुए एक दूसरा इंग्लिश वेबसाइट बनानी हो वह भी दूसरा डोमेन लिए बिना तो मैं इसी वेबसाइट को इंग्लिश वेबसाइट के लिए भी कुछ इस प्रकार सब डोमेन बना सकता हूं English.rishiuikey.in

अब यहां पर मेरा थर्ड लेवल डोमेन English है क्योंकि मैंने इसे यहां एक सब डोमेन बनाया है

Conclusion of Domain Name Meaning in 2022

तो आपने आजके इस लेख जाना Domain Name Meaning के बारे में हिंदी में हमने इस लेख में डोमेन से जुड़ी लगभग सभी बातों को विस्तार से बताने की कोशिश की है फिर भी यदि आपको लगता है कि इस पोस्ट में डोमेन से जुड़ी कोई पार्ट छूट गया है तो आप हमें नीचे कमेंट बॉक्स में बता सकते हैं इसके अलावा हमारे द्वारा Domain Meaning की यह जानकारी आपको पसंद आई हो तो भी आप हमें कमेंट में अपनी प्रतिक्रिया जरूर लिखें इसके अलावा आप इसे ज्यादा से ज्यादा सोशल मीडिया जैसे फेसबुक, इंस्टाग्राम, ट्विटर, लिंक्डइन, आदि पर शेयर करें और हमारे साथ जुड़ने के लिए हमें भी सोशल मीडिया पर Follow करें।

तो दोस्तों अब आजके लिए बस इतना ही जल्द मिलेंगे एक और नई जानकारी में तब तक के लिए धन्यवाद नमस्कार दोस्तों

 

Post a Comment

0 Comments